Friday, 9 May 2014

Hair lock - Ciocca di capelli - बालों की लट

Orthodox jew men with payot, Wailing wall, Jerusalem - images by Sunil Deepak, 2014
Orthodox jew men with payot, Wailing wall, Jerusalem - images by Sunil Deepak, 2014
Orthodox jew men with payot, Wailing wall, Jerusalem - images by Sunil Deepak, 2014

Jerusalem: The men from some orthdox Jew groups such as Haredi, Yemenites and Hasidic, do not cut the hair above their ears. Thus they have a long lock of hair hanging close to their ears. In Hebrew this lock of hair is called "payot". Today's images have some men with payot from the praying site near the "Wailing wall" in Jerusalem.

जेरूसल्मः पारम्परिक यहूदी गुटों, जैसे कि हरेदी, येमेनाइट, हासिदिक आदि में पुरुष कान के ऊपर बाल नहीं काटते. इस तरह से बालों की लम्बी लट उनके कानों के पास लटकती है. ईज़राइल की हिब्रू भाषा में इसे पायोट कहते हैं. आज की तस्वीरों में जेरूसल्म की "रोती दीवार" के पास प्रार्थना करने आये, पायोट की लटों वाले पुरुष.

Gerusalemme: I maschi di alcuni gruppi di ebrei ortodossi non tagliano i capelli vicino alle orecchie. Così loro hanno una lunga ciocca di capelli che pende vicino alle loro orecchie. In ebraico questa ciocca si chiama "payot". Le immagini di oggi hanno alcuni uomini con i payot dalla zona di preghiera vicino al "Muro del Piano" a Gerusalemme.

***

10 comments:

  1. Replies
    1. धन्यवाद सुशील :)

      Delete
  2. दुर्लभ तस्वीरें!!! यहाँ वेलिंग वाल पर तस्वीर खींचने का रिस्क मैंने लिया था एक बार वाल को टच करते हुए अपना फोटो एक यहूदी लड़की से ही खिंचवाया था और कैमरा छुपा कर रख लिया था.

    ReplyDelete
    Replies
    1. धन्यवाद राजेश कुमारी जी. शुरु शुरु में मुझे भी कुछ झिझक थी कि यहाँ तस्वीर खींचने से शायद वह लोग बुरा न मान जायें, पर फ़िर देखा कि वहाँ बहुत से लोग तस्वीरें खींच रहे थे तो मैंने भी खींच लीं.

      पर वेलिंग वाल पर प्रार्थना करते हुए अपनी तस्वीर खिंचवाने का मुझे विचार नहीं आया! :)

      Delete
  3. बढ़िया प्रस्तुति।।

    ReplyDelete
    Replies
    1. धन्यवाद अँकुर :)

      Delete
  4. चित्र देख कर मुझे जेरुसलम अन्य नगरों सा लगा पर आप की टिप्पणी से पता चला कि वहाँ यहूदी , ईसाई और मुसलमान भी हैं , यद्यपि जेरुसलम मूलत: एक यहूदी शहर है ।

    ReplyDelete
    Replies
    1. सुदेश जी, जेरूसल्म में शायद मुसलमान अधिक हैं हाँलाकि कई इलाके केवल यहूदियों या विदेशियों के लिए हैं और वहां मुसलमान नहीं रह सकते. ईसाई उनके मुकाबले में कम हैं. :)

      Delete
  5. first time visiting your blog :)
    wonderful reflection post,

    ReplyDelete
    Replies
    1. Welcome and thanks संजय :)))

      Delete

Daily 3 new images from around the world with a brief reflection in English, Hindi and Italian - Thanks in advance for your comments - Grazie in anticipo per i vostri commenti - आप की टिप्पणियों के लिए धन्यवाद

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Followers